पदयात्रा से ‘पंचम तल’ की तैयारी

कांग्रेस के तमाम छोटे-बड़े नेता यह दावा करते हुए नहीं अघा रहे हैं कि अगले विधानसभा चुनाव में पश्‍चिम उत्तर प्रदेश में ‘राहुल का जादू’ ही चलेगा और लखनऊ के पंचम तल से एक बार फिर सूबे को चलाने का मौका देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस को ही मिलेगा. यही रणनीतिकार पश्‍चिम उत्तर प्रदेश में जमीन के मुद्दे को सियासी एजेंडे में लाने की कवायद राहुल के जरिए कर रहे हैं. किसान संदेश यात्रा और किसान महापंचायत इसी कवायद के अहम हिस्से हैं. पश्‍चिमी उत्तर प्रदेश में राहुल के ‘जादुई प्रभाव’ के दावे की हकीकत की पड़ताल के लिए उन तीन गांवों के माहौल को समझना जरूरी है जहां राहुल गांधी ने अपनी किसान संदेश यात्रा के दौरान रात गुजारी.