‘हम नरेंद्र मोदी को गुजरात से बाहर निकलने ही नहीं देंगे’

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी को भाजपा और मीडिया का एक वर्ग भले ही भावी प्रधानमंत्री के तौर पर पेश कर रहा हो लेकिन कभी उनके साथ रहने वाले नेता ही राज्य की राजनीति में तीसरा कोण जोड़ने की कोशिश करके उन्हें गुजरात की सत्ता से भी बेदखल करने की योजना पर काम कर रहे हैं. राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल के समर्थन से इस अभियान की अगुवाई करने वाले महागुजरात जनता पार्टी के अध्यक्ष और मोदी सरकार में गृह मंत्री रहे गोर्धन जडाफिया, हिमांशु शेखर को बता रहे हैं कि मोदी के साथ तो संघ की गुजरात इकाई भी नहीं है

क्या आपको लगता है कि गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनावों के मुकाबले को आपकी पार्टी त्रिकोणीय बनाने में कामयाब होगी?
हम तो इसी भरोसे के साथ काम कर रहे हैं. पिछले चुनाव में हमारी पार्टी सिर्फ चार महीने पुरानी थी इस बार तो पांच साल पुरानी है. इस बार हमारा साथ गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल भी दे रहे हैं. इसके अलावा अन्य कई ऐसे नेता हमारे साथ हैं जिनकी राज्य की राजनीति में अपनी एक अलग पहचान है. मैं तीसरे कोण के बारे में ज्यादा कुछ नहीं कहूंगा बल्‍कि चुनावी नतीजे खुद-ब-खुद इस बात को साबित करेंगे.

आप जिन केशुभाई पटेल की बात कर रहे हैं, वे तो अब भी भाजपा के साथ बने हुए हैं.
आप सही कह रहे हैं कि वे अभी तक तो भाजपा में हैं. लेकिन वे महागुजरात जनता पार्टी के कार्यक्रमों में लगातार आ रहे हैं. वे हर कदम पर हमारे साथ हैं. उन्होंने शीर्ष नेतृत्व को भी पूरी बात बता रखी है. आने वाले दिनों में यह स्‍थिति और साफ होगी.

भाजपा आप पर आरोप लगा रही है कि आप मोदी का खेल खराब करने के लिए कांग्रेस के समर्थन से राज्य में काम कर रहे हैं. आप क्या कहेंगे?
यह आरोप बिल्कुल बेबुनियाद है. वैचारिक तौर पर भाजपा से कहीं अधिक हमारी दूरी कांग्रेस से है. इसलिए कांग्रेस के समर्थन से काम करने का सवाल ही नहीं उठता.

चुनाव से पहले या चुनाव के बाद अगर कांग्रेस आपको गठबंधन करने का प्रस्ताव देती है तो आप क्या करेंगे?
कांग्रेस के साथ गठबंधन करने का सवाल ही नहीं पैदा होता. कांग्रेस की सरकार को भी राज्य की जनता ने मौका दिया लेकिन उसने भी यहां के लोगों को ठगने का ही काम किया. इससे भी बड़ी बात यह है कि पिछले दस साल से मोदी ने जिस तरह से विकास का हौवा खड़ा किया उसका पर्दाफाश कांग्रेस ने एक जिम्मेदार विपक्ष की तरह नहीं किया. विपक्ष के तौर पर कांग्रेस ने भी लोगों को निराश किया है.

मोदी तो विकास के लंबे-चौड़े दावे कर रहे हैं. फिर ऐसे में राज्य की जनता आप जैसे किसी नए विकल्प को वोट क्यों देगी?
मोदी जिस विकास की बात कर रहे हैं, वह सिर्फ मीडिया में ही है. जमीनी स्तर पर जाकर देखेंगे तो पता चलेगा कि ‌कितना विकास हुआ है. जिस विकास की बात नरेंद्र मोदी कर रहे हैं उसकी भारी कीमत राज्य की जनता को चुकानी पड़ी है. गुजरात की जनता मोदी के इन दावों की हकीकत समझ गई है इसलिए आज लोग खुद नया विकल्प तलाश रहे हैं.

गुजरात भाजपा यह संदेश देने की कोशिश कर रही है कि मोदी को जिताओगे तो उनके दिल्ली जाने का रास्ता साफ होगा और गुजरात को पहला प्रधानमंत्री मिलेगा. इससे आप कैसे निपटेंगे?
राज्य की जनता ने देख लिया है कि मुख्यमंत्री के तौर पर उनके दावे और जमीनी सच्चाइयों में कितना फर्क है. हम राज्य के अलग-अलग हिस्सों में लगातार जा रहे हैं और लोगों से जिस तरह का समर्थन मिल रहा है उसके आधार पर मैं कह सकता हूं कि हम मोदी को गुजरात से बाहर निकलने ही नहीं देंगे.

भाजपा के पास मोदी के तौर पर मुख्यमंत्री का एक मजबूत उम्मीदवार है. लेकिन न आपके पास और न ही कांग्रेस के पास इस पद के लिए कोई मजबूत उम्मीदवार अभी दिख रहा है. ऐसे में जनता आखिर आप पर क्यों भरोसा करेगी?
एक बार जब हम चुनावों में जीतकर आएंगे और हमारे पास संख्या होगी तो कोई न कोई नया और मजबूत नेतृत्व खुद ही लोगों के सामने आएगा. लोग महागुजरात जनता पार्टी पर इसलिए भरोसा करेंगे कि नरेंद्र मोदी ने पिछले दस साल में लोगों को भरोसा बार-बार तोड़ा है.

आप अब भी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शाखा में जाते हैं. तो क्या आपके इस मोदी विरोधी अभियान को संघ को समर्थन हासिल है?
मैं संघ का स्वयंसेवक हूं और जो भी कर रहा हूं उससे संघ के अधिकारियों को मैंने वाकिफ कराया है. संघ की गुजरात इकाई नरेंद्र मोदी के खिलाफ है और वे हमारे साथ हैं.

लेकिन संघ का शीर्ष नेतृत्व तो मोदी का समर्थन कर रहा है.
पहले भी कुछ मौकों पर ऐसा हुआ कि संघ के शीर्ष नेतृत्व और राज्य इकाई ने अलग-अलग रवैया अपनाया हो. इस बार भी यही हो रहा है. हालांकि, मैंने और केशुभाई पटेल ने संघ के सभी बड़ी अधिकारियों को मोदी के कार्यशैली और अपनी योजना के बारे में बता रखा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *