रिपोर्ट की राजनीति

हिमांशु शेखर

लिब्रहान आयोग की रपट अब सबके सामने आ गई है। यह रिपोर्ट दूसरी रपटों से बहुत अलग नहीं है। यह रिपोर्ट भी सिफारिशों से भरी पड़ी है। बाबरी मस्जिद विध्वंस के लिए इसमें 68 लोगों को जिम्मेवार माना गया है। कहा गया है कि यह विध्वंस सुनियोजित था। इस रिपोर्ट पर राजनीति इसके सामने आने से पहले से शुरू हो गई है। सियासत आने वाले दिनों में और गरम होगी।

अहम सवाल यह है कि क्या किसी के खिलाफ कोई कार्रवाई भी होगी? लगता तो नहीं है। क्योंकि पहले भी ऐसी रपटों के आधार पर कोई बड़ी कार्रवाई नहीं हुई है। वैसे भी अपने यहां रिंगमास्टर को सजा देने की प्रथा नहीं है। अगर सजा किसी को देना अनिवार्य ही हो तो शोहदों को सजा देने की कुप्रथा बहुत पुरानी है। तो ऐसे में रिपोर्ट का क्या मतलब रह जाता है?

सही मायने में देखा जाए तो यह रिपोर्ट कई लोगों को क्षणिक तौर पर मुश्किल में डाल सकती है  तो कई लोगों को राहत दे सकती है। इस विवादास्पद रपट ने कम से कम सत्ता पक्ष को राहत देने का काम भी कर दिया है। इस रपट की आंधी में वे सारे मुद्दे पीछे छूट गए, जिनकी वजह से मौजूदा संसद सत्र के गरमागरम रहने का अंदेशा था। पीछे छूट गया गन्ना किसानों का मुद्दा। दम तोड़ गया महंगाई का मसला। मधु कोड़ा के महाघोटाले पर भी सवाल नहीं उठ पाया संसद में। पूरी चर्चा इसी रपट के आसपास केंद्रित हो गई है।

दरअसल, अब सवाल इस रपट की विश्वसनीयता को लेकर भी उठेंगे। उठने भी चाहिए। क्योंकि  आखिर एक ऐसे मसले के जांच के जिसने भारतीय राजनीति की दिशा बदल दी, इतन लचर व्यवस्था कैसे की जा सकती है। इतने बड़े और विवादास्पद मसले की जांच के लिए सिर्फ एक व्यक्ति और रपट भी आए 17 साल बाद। जी हां, ऐसा राजनीति ही करा सकती है।

राजनीति का रंग कुछ ऐसा हो गया है कि यहां सियासी दलें रिपोर्ट-रिपोर्ट खेलती हुई नजर आ रही हैं। यह खेल भी खेल भावना के साथ नहीं खेला जा रहा है। क्योंकि खेल में भी एक पक्ष हारता है और दूसरा जीतता है। लेकिन यहां तो न कोई हारता है और न कोई जीतता है। यहां दोनों खेमे जीत का जश्न मनाते हुए देखे जा सकते हैं। अगर कोई हारता है तो वह है देश की जनता और यह लोकतांत्रिक व्यवस्था।

2 thoughts on “रिपोर्ट की राजनीति

  1. क्या कहा जा सकता है घटिया राजनीति जीतनी आलोचना करो कम है !!!क्या भविष्य है इस देश का !!!

  2. Wow, amazing weblog format! How lengthy have you been blogging for? you make blogging glance easy. The total look of your site is wonderful, 112sx3zzawdc9 as neatly as the content! TZO

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *